बिहार बोर्ड ने मैट्रिक और इंटर में फेल छात्रों को कराया पास, पढ़िए पूरी खबर



शिक्षा विभाग ने मैट्रिक और इंटर में फेल करने वाले हजारों को राहत देते हुए उन्हें सफल घोषित कर दिया है. दरअसल, बिहार में हर साल इंटर और मैट्रिक में असफल होने वाले ऐसे छात्र और छात्राओं की परीक्षा आयोजित की जाती है जो एक या दो विषय में फेल कर जाते हैं.

लेकिन बिहार में जिस तरह से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं और दूसरे विभागों की परीक्षाएं रद्द हो रही है उसे देखते हुए इस बार मैट्रिक और इंटर की कंपार्टमेंटल परीक्षा आयोजित कराना मुश्किल लग रहा था . लिहाजा शिक्षा विभाग ने बिहार विद्यालय परीक्षा समिति को ऐसे असफल छात्र और छात्राओं को सफल करने को लेकर आदेश दिया.

जिसके बाद आज बीएसइबी की वेबसाइट पर एक या दो विषय में फेल से पास होने वाले अभ्यर्थियों की सूची अपनी वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मुताबिक, मैट्रिक में 2 लाख 8 हजार 147 छात्र-छात्रा असफल थे और वो कंपार्टमेंटल की परीक्षा में शामिल हो सकते थे.

इनमें 1 लाख 41 हजार 677 छात्र-छात्राओं को ग्रेस मार्क्स देकर पास कर दिया गया है.इसी तरह इंटर में 1 लाख 32 हजार 486 असफल छात्र -छात्राओं में 72 हजार 610 को अतिरिक्त ग्रेस मार्क्स देकर पास किया गया.

बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा के मुताबिक. छात्रों के हित में ये फैसला लिया गया है और ऐसे अभ्यर्थी इसी सत्र में दाखिला ले सकते हैं. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने लॉकडाउन के बीच ही 24 मार्च को इंटर का रिजल्ट घोषित कर दिया था. जबकि 26 मई को मैट्रिक की परीक्षा का रिजल्ट घोषित किया गया था.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां